[[ DENGUE FEVER TREATMENT: HOME REMEDIES OF DENGUE ]]

Standard

[[ DENGUE FEVER TREATMENT: HOME REMEDIES OF DENGUE ]]
Symptoms of Dengue fever are :
• Headache
• Fever
• Exhaustion
• Severe joint and muscle pain
• Swollen glands
• Rashes over the body.
• Patient suffering from Dengue fever may also show sign of bleeding gums, severe pain behind the eyes, and red palms and soles

डेंगू के लक्षण :- तीव्र ज्वर, सर में तेज़ दर्द, आँखों के पीछे दर्द होना, उल्टियाँ लगना, त्वचा का सुखना तथा खून के प्लेटलेट की मात्रा का तेज़ी से कम होना डेंगू के कुछ लक्षण हैं जिनका यदि समय रहते इलाज न किया जाए तो रोगी की मृत्यु भी सकती है l
DENGUE TREATMENT :
1. POMEGRANATE JUICE CURE FOR DENGUE FEVER:
Pomegranate and black grape juice helps in increasing the blood platelet count to a great extent.

2. Wheatgrass Juice:- Wheatgrass is know to increase Platelet count and increase in HB level, RBC, Total WBC and different WBC count. wheatgrass increases in Platelet count.
3. Papaya Leaf Cure for Dengue Fever
cure for Dengue is papaya leaf. The juice or pulp made from this plant has been found to be quite effective not only in fighting the symptoms of dengue fever, but also in curing it.
How to Prepare Papaya Leaf Juice at Home
(1.) The Juice Method. For this method, it is recommended to extract the juice out of papaya leaves by crushing. After removing the stems and other fibrous parts you should crush the other part, the greener one. You can use a cloth filter or any other type of device to squeeze the juice out. However, remember that the leaves have to be fresh. If you don’t use raw fresh papaya leaves, the outcome might not be that good and the positive effect will be minimized. You need about two leaves for each treatment. Take two tablespoons of juice every six hours, three times a day and you will certainly feel better.
(2.) The Paste Method. You can use a food processor or a grinder to turn the leaves into a paste. However, because it is quite bitter, it is recommended to mix it with some fresh juice. Take four teaspoons twice a day. After three days to one week, you will see the difference.

4. Ghiloy Ghan Wati : Recommend by Swami Ram Dev
You can get this medicine in Swami Ram Dev ‘s store. Take 3 medicnes a day.
Or ….
As per Swami Ramdev’s formula take a foot long branch of Giloy herb (Tinospora cordifolia) and 7 Leaf of Tulsi plant. Mix them together and extract juice of this mixture in a pot. Boil this juice and drink it.
Fig (Angeer) , Apple is also useful and helps in increasing blood.
डेंगू बुखार का इलाज : आजकल डेंगू एक बड़ी समस्या के तौर पर उभरा है, पुरे भारत में ये बड़ी तेजी से बढ़ता ही जा रहा है जिससे कई लोगों की जान जा रही है l यह एक ऐसा वायरल रोग है जिसका माडर्न मेडिकल चिकित्सा पद्धति में कोई इलाज नहीं है परन्तु आयुर्वेद में इसका इलाज है और वो इतना सरल और सस्ता है कि उसे कोई भी कर सकता है l
यदि आपके आस-पास किसी को यह रोग हुआ हो और खून में प्लेटलेट की संख्या कम होती जा रही हो तो चित्र में दिखाई गयी चार चीज़ें रोगी को दें :
१) अनार जूस
२) गेहूं घास रस
३) पपीते के पत्तों का रस
४) गिलोय/अमृता/अमरबेल सत्व

अनार जूस तथा गेहूं घास रस नया खून बनाने तथा रोगी की रोग से लड़ने की शक्ति प्रदान करने के लिए है, अनार जूस आसानी से उपलब्ध है यदि गेहूं घास रस ना मिले तो रोगी को सेब का रस भी दिया जा सकता है l
- पपीते के पत्तों का रस सबसे महत्वपूर्ण है, पपीते का पेड़ आसानी से मिल जाता है उसकी ताज़ी पत्तियों का रस निकाल कर मरीज़ को दिन में २ से ३ बार दें , एक दिन की खुराक के बाद ही प्लेटलेट की संख्या बढ़ने लगेगी l
- गिलोय की बेल का सत्व मरीज़ को दिन में २-३ बार दें, इससे खून में प्लेटलेट की संख्या बढती है, रोग से लड़ने की शक्ति बढती है तथा कई रोगों का नाश होता है l यदि गिलोय की बेल आपको ना मिले तो किसी भी नजदीकी पतंजली चिकित्सालय में जाकर “गिलोय घनवटी” ले आयें जिसकी एक एक गोली रोगी को दिन में 3 बार दें l यदि बुखार १ दिन से ज्यादा रहे तो खून की जांच अवश्य करवा लें l यदि रोगी बार बार उलटी करे तो सेब के रस में थोडा नीम्बू मिला कर रोगी को दें, उल्टियाँ बंद हो जाएंगी l ये रोगी को अंग्रेजी दवाइयां दी जा रही है तब भी यह चीज़ें रोगी को बिना किसी डर के दी जा सकती हैं l
डेंगू जितना जल्दी पकड़ में आये उतना जल्दी उपचार आसान
हो जाता है और रोग जल्दी ख़त्म होता है l

Leave a Reply